Blogs of weeks

विविध

सामाजिक समरसता की कालजयी कृति है कुम्भ ..

वैदिक और पौराणिक कथाओं को उनकी शाब्दिकता मात्र के आधार पर समझने के  प्रयत्नों से बड़ी भ्रान्ति होती है। अनेक कथाओं, वृन्ताओं को रूपक समझ कर व्याख्या करें तो भाव स्पष्ट होने लगते हैं। पौराणिक र...

पुस्तक समीक्षा

लेखक का सिनेमा..

अभिव्यक्ति के तमाम साधनों में फिल्म सबसे ज्यादा प्रभावशाली, सशक्त और जीवन्त माध्यम है। जीवन की तरह फिल्मों को भी दर्शक आकंठ जीते हैं। फर्क बस यही है कि फिल्मों में अपने स्वाद के अनुसार चुनाव की आजा...

विविध

जीवनशैली बना रही बीमार..

आज की नगरीय कार्यशैली में पीठ दर्द, मोटापा, अधकपारी, तनाव, अवसाद आदि बीमारियां तेजी से घर करती जा रही हैं। लगातार ऐसे युवाओं की तादाद बढ़ रही है जो इस तरह की बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं। इसके पी...

पुस्तक समीक्षा

सत्ता का सत्य: वह सत्य जो सुंदर नहीं है..

आमतौर पर सत्य के बारे में कहा जाता है कि वह एक ही होता है। हां, लेकिन जब सत्ता की बात आती है तो पता चलता है कि इसके सत्य एक से ज्यादा होते हैं। बल्कि वे कई तरहों से अलग-अलग लोगों के सामने परोसे भी ...

विविध

नौकरशाही बनाम नौकरशाही का अंतर्विरोध ..

राजीव गांधी ने नौकरशाही के जरिये अपने राजनीतिक कार्यक्रमों पर सबसे ज्यादा जोर दिया था। उन्होंने देश को इक्कीसवीं सदी में ले जाने के कार्यक्रमों की महत्वाकांक्षा के साथ राजनीति की कमान संभाली थी। दे...

विविध

मुसलमानों का बैरी नहीं है संघ ..

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत का यह कथन महत्वपूर्ण है कि जिस दिन हम कहेंगे कि मुसलमान नहीं चाहिए, उस दिन हिन्दुत्व भी नहीं रहेगा। इस कथन की गहराई को अगर देश का आम मुसलमान समझ जाए ...

विविध

सात केस: बने कानून में बदलाव कारण..

हम यह जानते हैं कि अदालत द्वारा दिया जाने वाला फैसला एक आधिकारिक विचार या औपचारिक निर्णय होता है। लेकिन वर्तमान समय में हमारा समाज बदलाव के दौर से गुजर रहा है और इसकी वजह से न्याय प्रणाली में भी बद...

विविध

स्वतंत्रता आंदोलन में आरएसएस..

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की स्थापना साल 1925 में डॉ.केशव बलिराम हेडगेवार द्वारा नागपुर में की गई थी। इससे पूर्व डॉ. हेडगेवार डाक्टरी की पढ़ाई के दौरान कोलकाता में क्रान्तिकारी संगठनों युगान्तर और अन...

आधी आबादी

साहित्य के नभ पर महिला रचनाका..

स्वातन्त्रयोत्तर हिन्दी साहित्य विविध परिवर्तनों को सर्वथा एक नवीन चेतना के साथ प्रस्तुत करने के क्रम में अग्रसर होता...

पुस्तक समीक्षा

लेखक का सिनेमा..

अभिव्यक्ति के तमाम साधनों में फिल्म सबसे ज्यादा प्रभावशाली, सशक्त और जीवन्त माध्यम है। जीवन की तरह फिल्मों को भी दर्श...

विविध

विश्व वार्ता

फिर सक्रिय होते खालिस्तानी..

लंदन में 12 अगस्त को खालिस्तान के समर्थन में हुई रैली में 'खालिस्तान रेफरेंडम 2020' को सिरे चढ़ाने का एलान हुआ। इसे '...

सियासत

मनोरंजन

Latest Topics